Follow by Email

Sunday, June 23, 2013

संत कबीर की जयंती

आज संत कबीर की जयंती है ,वही कबीर जिन्होंने अपने दोहों के माध्यम से इस देश में जातिपांति,अंध विश्वास ,रुदिवादिता ,पाखंड ,धार्मिक कट्टरता पर प्रहार किये .लेकिन आज इन्ही कबीर की फोटो लगाकर ,इनके दोहों को लिखकर कुछ पाखंडी कथित दलित चिंतक हर दिन ,हर समय ,हर मुद्दे पर सवर्णों को गरियाते रहते है ...क्या कबीर ने यही शिक्षा दी थी , आज संत कबीर को एक जाति और सम्प्रदाय का बंधक बनाने का प्रयास किया जा रहा है..मेरा कथित दलित चिंतकों से अनुरोध है कि कृपया संत कबीर के नाम का सहारा लेकर सड़ांध और जहर न फैलाये .. बचपन में कबीर के दोहों ने मुझे सबसे ज्यादा आकर्षित किया ,आज भी मै यह मानता हूँ कबीर ने अपने दौर में बड़ी सामजिक क्रांति की थी और उनके विचार आज भी उतने ही प्रासंगिक है जिंतने पहले थे ....संत कबीर को उनकी जयंती पर शत -शत नमन ....

No comments:

Post a Comment