Follow by Email

Friday, December 21, 2012

समाज पर कलंक

दिल्ली गैंगरेप की घटना हमारे समाज पर कलंक है ,इस घटना के बारे में सोच कर ही रोंगटे खड़े हो जाते है ..सोच कर स्तब्ध हूँ कि देश की राजधानी ही सुरक्षित नहीं है ..लगता है सरकारें और पुलिस बेशर्म हो गयी है . लेकिन हमारा समाज और हम सब भी कही न कही जिम्मेदार है इन घटनाओं के बढ़ने के लिए ....जघन्यतम कृत्य की शिकार उस लड़की के प्रति मेरी गहरी सवेदना है ,ईश्वर उसको जल्द ठीक करे और साहस दे ...मै सिर्फ इतना कहना चाहता हूँ कि इस घटना के आरोपियों को हर हाल में मौत की सजा होनी चाहिए ...अच्छा तो यह होता जब उन्हें इस जघन्यतम कृत्य के लिए भरे चौराहे पर गोली मार दी जाये ...जिनमे मनुष्यता नहीं है उन्हें भी मनुष्यों के बीच रहने का अधिकार नहीं है ...

No comments:

Post a Comment